गोरखपुर की काजल ने रचा गजब प्रेम कहानी, उठा पर्दा खुद काजल ने इस प्रकार रची थी पूरी कहानी


प्रेमी से शादी करने के ल‍िए गोरखपुर की काजल ने खुद की हत्या का सीन तैयार किया। पहले घायल और फिर मरा हुआ दिखने का अभिनय कर तस्वीरें खिंचाई। उन तस्वीरों को अपने मोबाइल फोन से पिता को वाट्सएप किया और प्रेमी के साथ फरार हो गई। एक तरफ बेटी की मौत की खबर पर यकीन कर लेने की वजह से परिवार का बुरा हाल था तो दूसरी तरफ शव की तलाश में जंगलों की खाक छान रही पुलिस भी हलकान थी। जब हकीकत से पर्दा उठा तो ‘काजल हत्याकांड’ की पूरी कहानी फिल्मी निकली।

प्रेमी के साथ पकड़े जाने के बाद काजल, बेझिझक होकर एक-एक सवाल का जवाब दे रही थी। उसका कहना था कि पिता हर समय नशे की हालत में रहते हैं। घर में आने में यदि थोड़ी सी भी देर हो जाती थी तो वह, उसे न केवल अपमानित करते थे बल्कि चरित्र को लेकर बेहद आपत्तिजनक टिप्पणियां भी करते रहते थे। डांटते हुए अक्सर कहते थे कि वह मर जाएगी तो उनको अफसोस नहीं होगा। पिता के इस रवैये से क्षुब्ध होकर ही उसने सोचा के पिता को अपनी मौत की सूचना देकर प्रेमी के साथ आराम से जिंदगी गुजारुंगगी। मौत की सूचना पाकर परिवार के लोग दो, चार दिन रो-धोकर शांत हो जाएंगे। इसके बाद सब कुछ ठीक हो जाएगा।

अप्रैल 2018 से काजल प्रेमी के संपर्क में थी। फोन से वह अक्सर उससे बात करती रहती थी। पुलिस की पूछताछ में उसने कबूल किया कि मां तथा भाई-बहनों को हरिमोहन के साथ उसके संबंध के बारे में ठीक से पता था। पिता को भी जानकारी थी, लेकिन वह बस इतना जानते थे कि आगरा का कोई युवक उसके संपर्क में है। इससे अधिक उन्हें पता नहीं था। काजल के गायब होने की खबर रिश्तेदारी में फैलते ही खुखुंदू, देवरिया निवासी उसका फूफेरा भाई, चौरीचौरा आ गया था। उसके प्रेम संबंध के बारे में फुफेरे भाई को पहले से जानकारी थी। पिता के मोबाइल फोन पर अपनी हत्या की सूचना भेजने के बाद से ही काजल, उसके संपर्क में थी। फूफेरा भाई ही उन्हें पुलिस की सारी गतिविधियों की जानकारी दे रहा था। इसीलिए आगरा और फिरोजाबाद में वे पुलिस की गिरफ्त आते-आते रह गए थे।

घर छोडऩे के बाद प्रेमी युगल एक शहर से दूसरे शहर भाग रहा था और पुलिस उनका पीछा कर रही थी। पुलिस से पीछा छुड़ाने के लिए उन्होंने कोर्ट मैरेज करने का निर्णय लिया। काजल ने फुफेरे भाई से इस संबंध में बात की तो उसने उन्हें गोरखपुर आने को कहा और भरोसा दिया कि यहां वह आसानी से उनका कोर्ट मैरेज करा देगा। इसी आश्वासन पर दोनों गोरखपुर आए थे। सोमवार को रजिस्ट्रार कार्यालय पहुंचकर दोनों शादी करने की तैयारी में थे। प्रेमी युगल को पकडऩे के बाद पुलिस उन्हें कुसम्हीं जंगल में उस स्थान पर गई थी, जहां उन्होंने हत्या का सीन तैयार किया था। क्षेत्राधिकारी ने बताया कि वहां से नकली खून बनाने में इस्तेमाल किए गए ग्लिसरीन और रंग की तीन शीशियां वहां से बरामद की गई हैं।

घर छोड़ते समय काजल सभी शैक्षणिक प्रमाण पत्र, आधार कार्ड, पैन कार्ड व अन्य सभी जरूरी दस्तावेज साथ ले गई थी। घर से सिर्फ कपड़ा लेकर नहीं निकली थी। इसलिए शहर में पहुंचने पर प्रेमी के साथ वह विशाल मेगा मार्ट गई। वहां से अपने लिए कपड़े खरीदे। वहीं नश्ता किया और इसके बाद दोनों नौसढ़ पहुंचे। नौसढ़ चौराहे से आगरा के लिए निजी बस चलती है। उसी बस से दोनों आगरा पहुंच गए।

!--MGID--!

Comments 0

Your email address will not be published. Required fields are marked *

गोरखपुर की काजल ने रचा गजब प्रेम कहानी, उठा पर्दा खुद काजल ने इस प्रकार रची थी पूरी कहानी

log in

reset password

Back to
log in