कोरोना के नए वैरिएंट से दहशत में देश

दुनिया के कई देशों में कोरोना के नए वैरिएंट (ओमिक्रॉन) का खतरा बढ़ता जा रहा है। आए दिन प्रदेश में कोरोना के केस बढ़ते जा रहे है । बढ़ते केस ओर बढ़ते खतरे को देखते हुए भारत सरकार ने भी देश मे सतर्कता बढाने का निर्यण लिया है । सरकार कोरोना के नए वैरिएंट के खतरे को देखते हुए पहले से ही सतर्क है और यही वजह है कि इसके लिए पुख्ता तैयारियो में जुटी हुई है। बिहार सरकार के आदेश के बाद स्वास्थ्य विभाग राज्य के सभी सरकारी हॉस्पिटल में इलाज की व्यवस्था दुरूस्त करने में जुटी है । स्वास्थ्य विभाग के अपर मुख्य सचिव और मुख्य सचिव ने सभी सरकारी अस्पतालो को अलर्ट में रहने का निर्देश दिया है।

बिहार की राजधानी पटना में 4 बड़े अस्पतालो में पुख्ता तैयारियां की जा रही है। आईये डालते है इन अस्पतालों के तैयारियों पर नज़र ।

1. पीएमसीएच

* कोरोना मरीज़ों के लिए वार्ड की साफ सफाई कर सारि सुविधाओं का दयान रखा गया है ।
* आईसीयू में 25 बेड समेत 108 बेड का अरेंजमेंट की गई है ।
* कोरोना वार्ड में नियमित  डॉक्टर की ड्यूटी लगा दी है ।
* वार्ड में वेंटिलेटर की व्यवस्थाओं का पूरा दयान रखा गया है ।
* कोरोना के इलाज़ के लिए मेडिसिन की स्टॉक रखी गई है।

2.नालंदा मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल (एनएमसीएच)
एनएमसीएच में भी कोरोना के इलाज के लिए सारी तैयारियां की जा रही है।

* बिल्डिंग में 100 बेड की व्यवस्था है।
*40 बेड बच्चों के लिए सुरक्षित रखा गया है।
* डॉक्टरों की ड्यूटी लगा दी गई है ।
* सभी कोरोना वार्ड में वेंटिलेटर की सुविधाओं के साथ और सभी जरूरतों को ध्यान में रखा गया है ।

 

3. इंद्रा गांधी इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस (आईजीआईएमएस)

बच्चों के लिए अलग वार्ड की व्यवस्था के साथ साथ नई चुनौतियों से निपटने के लिए अस्पताल प्रशासन की ओर से सभी तैयारियां की जा रही हैं।

4 . एम्स पटना

*Aims पटना में पहले से ही 3 लोगो का कोरोना का इलाज किया जा रहा है ।
* यहां 600 बेड की व्यवस्था की गई है ।
* सभी कोरोना वार्ड में ऑक्सीजन सिलिंडर का इंतजाम करवाया गया है ।
* वेंटिलेटर मशीन भी उपलब्ध करवाए गए है ताकि मरीज़ों को किसी तरह की समस्या का सामना ना करना पड़े ।

Aadya Bharti

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *