राज्य के 20 शहरों में न्यूनतम तापमान 10 डिग्री से नीचे आ गया हैं। खबर के अनुसार कुछ दिनों के अंदर राज्य के कई शहरों का न्यूनतम पारा सात डिग्री तक गिरा है। और अब कंपकपी के साथ ठिठुरन बढने लगी है। इसके साथ ही राज्य में शीतलहर का कहर भी देखने को मिल रहा है। बर्फीले इलाकों और शुष्क मरुभूमि से आ रही सर्द पछुआ हवा के कारण बिहार के सभी जिलों में अब शीतलहर का असर दिखने लगा है। राजधानी पटना में भी न्यूनतम तापमान गिरने का सिलसिला लगातार बरकरार था। लेकिन अब कुछ दिनों के लिए मौसम में स्थिरता बने रहने का अनुमान है।

शीतलहर के दूसरे दौर की होगी शुरुआत

मौसम विभाग के अनुसार 5 जनवरी 2022 तक भारत के ज्यादातर हिस्सों में शीतलहर का प्रकोप घटने लगेगा, जिससे आने वाले कुछ दिनों में ठंड से राहत तो जरुर मिलेगी लेकिन मौसम विभाग ने शीतलहर के दूसरे दौर के शुरुआत की भी चेतावनी जारी की है। जिससे 5 जनवरी के बाद फिर से ठंड बढ़ने के आसार हैं। वहीं, मौसम विभाग ने पश्चिमी विक्षोभ के असर से 27 दिसंबर को देश के कुछ राज्यों में बादल छाए रहने का अनुमान लगाया है।

बिहार के मौसम का हाल

बात करे बिहार की तो बिहार में अगले 24 घंटों में मौसम का मिजाज थोड़ा बदलेगा। अभी राज्य भर में उत्तर व उत्तर पश्चिमी हवा का प्रवाह जारी है। 24 घंटे बाद पूर्वी हवा चलने का पूर्वानुमान है और मौसम विज्ञान के अनुसार पूर्वी हवा का प्रवाह होने से प्रदेश के न्यूनतम तापमान में आंशिक वृद्धि होगी। लेकिन आपको बता दें की 27 दिसंबर से बिहार में पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होने का अनुमान लगाया जा रहा हैं। जिससे राज्य के कई इलाकों में हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है। इससे राज्य में ठंड का भी प्रकोप बढ़ सकता हैं और तापमान में गिरावट आ सकती हैं।

Latest news for you.

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *