एम्स के डायरेक्टर रणदीप ने सोमवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में यह जानकारी दी कि, देश में कोरोना के मामले अभी और बढ़ेंगे। दूसरी ओर डॉ. गुलेरिया का कहना है कि दिल्ली में कोरोना के मामले कम होते जा रहे हैं, इसको देखते हुए ऐसा कहा जा सकता है कि दिल्ली में कोरोना का प्रकोप अब धीरे-धीरे कम होता जा रहा है। इसलिए दिल्ली में लगातार सुधार देखने को मिल रहा है। साथ ही डॉ. गुलेरिया ने अन्य राज्यों के बारे में बताते हुए कहा कि कई राज्यों में कोरोना का विक्राल रूप देखना बांकी है। उन्होंने देश की खबर देते हुए कहा कि अभी कम्यूनिटी ट्रांसमिशन का पुख्ता सबूत नहीं मिला है। लेकिन हॉट स्पॉट इलाके की स्थिती थोड़ी गंभीर है। दिल्ली में जिस तरह से कोरोना का प्रकोप बढ़ता जा रहा था उसे देख कर लोग सहम से गए थे और इस बीच डॉ. गुलेरिया के इस बयान से लोगों को राहत मिलेगी।
कम्यूनिटी ट्रांसमिशन पर डॉ. गुलेरिया का कहना है कि अभी इसके कोई ठोस सबूत नहीं पाए गए हैं। इसलिए अभी यह कहना ठीक नहीं है कि देश में कम्यूनिटी ट्रांसमिशन हुआ है। हॉट स्पॉट इलाके के बारे में डॉ. गुलेरिया ने कहा है कि वहां केस बहुत ज्यादा हो गए हैं और दिन पर दिन बढ़ते जा रहे हैं। डॉ. गुलेरिया का कहना है कि हॉट स्पॉट इलाकों में स्थानिय स्तर पर कंम्यूनिटी ट्रांसमिशन हो रहा हो, हालांकि इस पर बड़ी ही गंभीरता से जांच होने की जरूरत है। अगर मृत्यु दर की बात करें तो उनका कहना है कि इटली, स्पेन जैसे संक्रमित देशों के मुकाबले भारत में मृत्यु दर कम है।
दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सतेंद्र जैन ने सोमवार को सुबह यह जानकारी दी है कि कम्यूनिटी ट्रांसमिशन तकनीकी मामला है, इसलिए वह इसका फैसला केंट्र सरकार पर छोड़ रहे हैं। वह ये तय करेंगे कि कम्यूनिटी ट्रांसमिशन है या नहीं?
दिल्ली की ताजा स्थिती की बात करें तो कोरोना के मामले पहले अपेक्षा कम बढ़ रहे हैं। संक्रमण के दर में काफी सुधार है। साथ ही कोरोना से ठीक हो रहे मरीजों की संख्या में तेजी से वृद्धी हो रही है।

Sampada Delhi Desk

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *