बिहार के पूर्णिया कोर्ट स्टेशन पर शनिवार की सुबह मॉर्निंग वॉक के लिए निकले अधिवक्ता रमण सिंह ने तेज गति से आ रही ट्रेन को देखकर पटरी पर अपना सिर रखकर लेट गए जिससे ट्रेन से कटकर उनका सिर धड़ से अलग हो गया। इस घटना की जानकारी मिलते ही कोहराम मच गया।
अधिवक्ता रमण सिंह की उम्र 35 वर्ष बतायी जा रही है और उन्होंने आत्महत्या क्यों की? इसका अबतक पता नहीं चल पाया है। मृतक मधुबनी टीओपी क्षेत्र के कोरठबाड़ी निवासी अधिवक्ता अनिल सिंह का बड़ा बेटा बताया जा रहा है।

वह सुबह घर से रोज की तरह मॉर्निंग वॉक पर निकला था। सुबह सात बजे पूर्णिया स्टेशन से सहरसा जाने वाली पैसेंजर ट्रेन के सामने ट्रैक पर गर्दन रखकर उसने आत्महत्या कर ली। सूचना पर इकट्ठा हुई भीड़ ने उसकी पहचान की और घरवालों को सूचना दी। मौके पर जीआरपी और रेल पुलिस शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा है। अात्महत्या के कारणों का पता किया जा रहा है।

इस मामले में और भी अपडेटेड जानकारी के लिए अखंड इंडिया की टीम के साथ बने रहे। हमारे टीम के सदस्य इस मामले की हर छोटी बड़ी जानकारी जुटाने में लग गये हैं। हम जल्द ही आपको इस मामले की ताजी जानकारी से रुबुरु करायेंगे। अगर यह जानकारी आपको पसंद आई तो इसे लाइक और शेयर करे। ताकि हम आपके लिए अधिक से अधिक समाचारों का संकलन भी करते रहे।

Latest news for you.

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *