मुजफ्फरपुर। बीआरए बिहार विश्वविद्यालय परिसर शनिवार की अहले सुबह ताबड़तोड़ बमबाजी व गोलीबारी से दहल गया। इलाके मे अफरा-तफरी मच गई। बताया गया कि लगभग पचास से अधिक बमो के धमाके व सौ से अधिक राउंड फाय¨रग की गई। हालांकि, इस घटना मे किसी के घायल होने की बात अब तक सामने नही आई है।

 
 
मालूम हो कि दो दिनो पूर्व एलएस कॉलेज के ड्यूक हॉस्टल पर बमबाजी व फाय¨रग की गई थी। इस घटना को उससे जोड़कर देखा जा रहा है। सूचना मिलते ही नगर डीएसपी आशीष आनंद के अलावा शहर के कई थाने की पुलिस घटनास्थल पीजी थ्री हॉस्टल पहुंची। नगर डीएसपी ने सभी पहलुओ पर जांच की। इसके बाद विवि थानाध्यक्ष को आगे की कार्रवाई का निर्देश दिया। घटनास्थल से पुलिस ने पांच जिंदा बम व आठ खोखे बरामद किए। बम निरोधक दस्ता को बुलाकर उसे निष्कि्रय कराया गया।

 
पुलिस पूछताछ मे छात्रो ने बताया गया कि ड्यूक हॉस्टल के छात्रो ने पीजी थ्री छात्रावास पर हमला बोल दिया। हॉस्टल कीदीवारो व खिड़की पर बम फेके गए। स्थानीय लोगो के अनुसार पचास से अधिक बमो के धमाके हुए। वही अत्याधुनिक हथियार से लगभग एक सौ अधिक राउंड फाय¨रग की बात कही जा रही है। जांच के दौरान दर्जनो बम के निशान हॉस्टल की दीवार पर देखे गए। करीब एक घंटे तक बम व गोलीबारी की आवाज आसपास के इलाके मे सुनी गई। हॉस्टल पर हमले के जवाब मे छात्रो ने खिड़की से रोड़ेबाजी की। पीजी थ्री से सटे एसआरएफ कैप के जवान व स्थानीय लोग जुटे तो हमलावर छात्र भाग निकले।

नगर डीएसपी ने एसआरएफ जवानो से भी पूछताछ कर जानकारी ली। घटना के बाद दोनो छात्रावास के छात्रो के बीच तनाव गहरा गया है। एहतियातन पुलिस इलाके मे कैप कर रही है। साथ ही इलाके मे गश्ती भी बढ़ा दी गई है। मामले मे पीजी थ्री के छात्रो के बयान पर ड्यूक हॉस्टल के एक सौ छात्रो पर प्राथमिकी दर्ज की गई है। इधर, घटना की जानकारी मिलने के बाद कुलपति डॉ. अमरेद्र नारायण यादव भी पीजी थ्री हॉस्टल पहुंचकर छात्रो से घटना की जानकारी ली।

Latest news for you.

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *